Skip to main content

Media Coverage

  1. ·         SOME  MEDIA  HEADLINES  ON RTI REPORT OF GOPAL PRASAD RTI ACTIVIST
  2. ·         http://thestatesman.com/opinion/-rti-activists-are-like-intelligence-agencies-153089.html
  3. ·          Fighting corruption through RTI
  4. ·         No law to protect  RTI  activists
  5. ·         3 RTI activists roughed up (BEATEN  Incident  reported  at  Satyavati  College)
  6. ·         लोकतंत्र के सशक्तिकरण में आरटीआई की भूमिका पर सेमिनार संपन्न
  7. ·         सूचना के अधिकार से लोकतंत्र को मजबूती
  8. ·         आरटीआई से आती है पारदर्शिता
  9. ·         सूचना का अधिकार अमोघ अस्त्र
  10. ·         सूचना का अधिकार वर्तमान स्थिति एवं चुनौतियां : गोपाल प्रसाद
  11. ·         आरटीआई एक्टिविस्ट ने आरटीआई क्रांति का किया शंखनाद
  12. ·         अमेठी व रायबरेली में आरटीआई प्रशिक्षण शिविर चलाएंगे गोपाल प्रसाद 
  13. ·         अधिकार की तो बात होती है परन्तु कर्तव्य भूल जाते हैं– गोपाल प्रसाद
  14. ·         कैसे करें भ्रष्टाचार का सामना ?
  15. ·         आरटीआई के प्रभावी क्रियान्वयन की मांग / सूचना के अधिकार की दशा सुधारने की मांग तेज
  16. ·         सूचना का अधिकार कानून का सही ढंग से क्रियान्वयन न होने के विरोध में धरना
  17. ·         आरटीआई कानून को कमजोर करनेवाली सरकार
  18. ·         Delhi HC charges Rs.50 for RTI info ; Govt rate : Rs. 10
  19. ·         जानकारी देने के लिए कोर्ट दस की बजाय वसूल रही है पचास रूपए
  20. ·         डैमेज कंट्रोल को यूपीए ने पास कराया लोकपाल
  21. ·         पीएम का काम सिर्फ घोषणाएं करनाउनपर अमल नहीं
  22. ·         PMO  swoops  on  air  miles  for  personal  use
  23. ·         ASI lodges  300  cases  27  against  govt  officials
  24. ·         लाल किले से जंतर मंतर तक कब्ज़ा / दिल्ली के स्मारक संकट में 
  25. ·         कर्ज के लिए ग्राहक से ब्लैंक चेक लेना बैंकों का अपना फैसला
  26. ·         Banking frauds galore, staff often colludes (Employees pass dud  cheques, push fake currency)
  27. ·         बड़े बैंकों के बाबूघपलेबाज बड़े(11बैंकों के 250 कर्मचारी रहे धोखाधड़ी में शामिल,आरटीआई का खुलासा)
  28. ·         बैंकों में 7 करोड़ पर डाला “डाका” / धोखाधड़ी पर सवाल एक जबाब अलग-अलग
  29. ·         आपके पैसे पर डोल रही बैंक अफसरों की नीयत
  30. ·         सख्ती से वित्त मंत्रालय को हर महीने पौने दो लाख की बचत
  31. ·         BIOMETRIC  SYSTEM  LEADS  TO  REDUCTION  IN  OVERTIME   PAY
  32. ·         रेलवे की 2460 एकड़ भूमि पर अवैध कब्ज़ा
  33. ·         दागी पुलिसकर्मी करते हैं राष्ट्रपति की सुरक्षा
  34. ·         President guarded by corrupt cops.
  35. ·         HOME MINISTRY ORDERS PROBE ON POLICEMEN GUARDING PREZ
  36. ·         पुलिस की सुरक्षा शाखा में भ्रष्टाचार की सेंध / गृह मंत्रालय ने माँगी भ्रष्ट पुलिसकर्मियों की रिपोर्ट
  37. ·         सिख विरोधी दंगों में मारे गए थे 2733 लोग
  38. ·         1984 ANTI SIKH RIOTS : Accused  in 7 Cases out of 255 Convicted
  39. ·         उप्र में नौ सालों में  साम्प्रदायिक हिंसा की 1271 घटनाएं336 लोगों की मौत
  40. ·         पुलिस आतंकियों का कैसे करेगी मुकाबला
  41. ·         पुलिस वाले भी महिला सहकर्मियों के साथ यौन उत्पीडन में आगे
  42. ·         भ्रष्टाचार से सनी है दिल्ली पुलिस (एसीपी से सिपाही तक आरोपों से घिरे)
  43. ·         भ्रष्ट अधिकारियों की फौज
  44. ·         सजा से बच जाते हैं  42 प्रतिशत आरोपी
  45. ·         दस में से नौ शिकायती टरका देती है पुलिस
  46. ·         खेल है करीब और पुलिस के 1894 पद हैं खाली
  47. ·         22 vacancies for DCPs, AdCPs , 103 for ACPs in Delhi Police
  48. ·         Delhi policemen make a career out of ruining lives
  49. ·         पुलिस अधिकारी ही उड़ा रहे हैं कानून का मखौल
  50. ·         रेप की 69 पीड़ितों को 28 लाख का मुआवजा
  51. ·         70% acquittals in special  cell  cases  (RTI Reply reveals the overall
  52. ·         conviction  rate in past 5 years is dismal )
  53. ·         RTI reveals cost of rugby venue went up 200%
  54. ·         राष्ट्रमंडल खेल -2010: भ्रष्टाचार ही भ्रष्टाचार
  55. ·         जजों के चिकित्सा बिलों की जानकारी नहीं मिली
  56. ·         लंच में ताश खेलनेवाले कर्मियों पर होगी कारवाई
  57. ·         पिछले साल अगस्त में 306 यूआरएल प्रतिबंधित हुएकारवाई की सूची गोपनीय 
  58. ·         सूचना मंत्रालय की सूचना ही सही नहीं.
  59. ·         जांच की ‘गुम’ हुई फाईल पाई(लघुउद्योग मंत्रालय में भ्रष्टाचार की जांच से जुड़ी फाइल गायब होने का मामला)
  60. ·         सीवीसी जांच के बीच ही गायब हो गई फाइल
  61. ·         बिना नीति के चल रहा है दूरदर्शन का डीटीएच
  62. ·         चीन के कब्जे में भारत का 38 हजार वर्ग किमी क्षेत्र
  63. ·         चीन ने कर रखा है भारत की 43,180 वर्ग किमी जमीन पर कब्ज़ा 
  64. ·         7,500 Bangladeshi  nationals deported from Delhi : RTI
  65. ·         अनुच्छेद 370 को लेकर समय सीमा तय नहीं
  66. ·         नदियों को जोड़ने के काम में पड़ोसी देशों से बाधा
  67. ·         दया याचिका निपटारे की समयसीमा तय नहीं :सरकार
  68. ·         गृह मंत्रालय में अटकी क्षमा याचिका
  69. ·         दया याचिकाओं पर वोट की राजनीति
  70. ·         राष्ट्रपति के पास 18 याचिकाएं लंबित
  71. ·         सात एनजीओ के खिलाफ शिकायततीन आधारहीन पाई गई
  72. ·         EX MPs can take pension along with benefits as EX MLAs: RTI
  73. ·         संसदीय पेंशन प्राप्त करने के हक़दार हैं पूर्व विधायक व पूर्व सांसद 
  74. ·         सांसद निधि योजना को बंद करने का प्रस्ताव नहीं
  75. ·         बजट खर्च करने में कुछ ने दिखाई दरियादिली तो कुछ रहे फिसड्डी 
  76. ·         99 सांसदों के सरकारी आवास में अवैध निर्माण / कानून तोड़ने में क़ानून निर्माता ही आगे.
  77. ·         750 सांसदों ने खरीदे जब्त हथियार / देश के कई सांसद हथियारों के शौक़ीन
  78. ·         पिछले 25 साल के दौरान जब्त किए गए हथियार खरीदे नेताओं ने 
  79. ·         दलों के घोषणा पत्र से चुनाव की शुचिता प्रभावित नहीं हो : EC
  80. ·         चुनावी खर्च का झूठ पकड़ने में चुनाव आयोग असहाय
  81. ·         भ्रष्टाचारकालेधन पर संसद में चुप रहीं सोनिया गांधी
  82. ·         Govt. ignores CBI Proof against khurshid NGO
  83. ·         शीला के खिलाफ भ्रष्टाचार के पांच मामलों की जांच कर रहे हैं लोकायुक्त
  84. ·         वीवीआईपी श्रेणी में आते हैं सोनिया के दामादवाड्रा दलाई लामा के समकक्ष/
  85. ·         वाड्रा को भी है हवाई अड्डे पर सुरक्षा जांच से छूट हासिल
  86. ·         Security to Ministers, judges for impartial decision  making : Police
  87. ·         संसद में उठेगा बिहार को विशेष राज्य का दर्जा देने का मुद्दा
  88. ·         सात साल से अधर में लटका है भोजपुरी भाषा का मामला
  89. ·         शहीद” शब्द कहीं भी परिभाषित नहीं : गृह मंत्रालय(RTI IMPACT:शहीद का दर्जा देने पर किया जा रहा विचार)
  90. ·         कोई भेद भाव नहीं होता सेना व अर्धसैनिक बालों के जवानों को सम्मान देने में
  91. ·         छुट्टी के दिन कुछ सरकारी कार्यालय खुलने से गृह मंत्रालय बेखबर
  92. ·         हर साल 18 आईएएस अधिकारी ले रहे है स्वैच्छिक सेवानिवृति  
  93. ·         कंपनियों ने छिपाई 63 हजार करोड़ रूपए की आमदनी
  94. ·         30 हजार करोड़ की कर चोरी (दो वर्षों में 33000 करोड़ का गलत मूल्य निर्धारण
  95. ·         मरीजों की आफत डॉक्टरों की मौज (दर– दर की ठोकरें खा रहे हैं इलाज के लिए आए मरीज)
  96. ·         हर सवाल का जबाब देने से बच रहा है एम्स
  97. ·         2011 में तम्बाकू जनित बीमारियों पर खर्च हुए एक लाख करोड़ रूपए
  98. ·         त्योहार में पर्यावरण की उपेक्षा घटक सिद्ध होगी
  99. ·         दस साल में उर्वरक पर 4.77 लाख करोड़ रूपए की सब्सिडी
  100. ·         70 Farmers  commit  suicide every month
  101. ·         हर महीने 70 किसान कर रहे आत्महत्या,1.25 लाख परिवार सूदखोरों के चंगुल में
  102. ·         आत्महत्या को मजबूर किसान
  103. ·         सविधान निर्माता के नाम पर गरीबों के लिए कोई योजना नहीं.
  104. ·         अपने अधिकारों से महरूम हैं आदिवासी.
  105. ·         पेट्रो कंपनी अधिकारी मौज मेंजनता रोए तो रोए (घाटे का रोना रोनेवाले विभिन्न कंपनियों के ये अधिकारी रहते हैं शाही ठाटबाट से)
  106. ·         तेल कंपनियों को 5.63 लाख करोड़ रूपए का घाटा56 फीसदी की भरपाई सरकार ने की
  107. ·         80 करोड़ लोगों के निर्धन रहते देश की प्रगति असंभव : स्ट्रेटेजिक फोरसाईट ग्रुप
  108. ·         आधार” के पक्षधर मोदीफिर शुरू करना चाहते हैं डीबीटी
  109. ·         Surat Incident fallout DGCA Draws up Safty Plan ( Move to Prevent bird and animal Hits )
  110. ·         प्रेस की कार्यप्रणाली में हस्तक्षेप नहींस्वनियमन पर जोर
  111. ·         ट्रांस्जेंडरों पर विशेषग्य समिति की सिफारिशों पर विचार कर रही है सरकार
  112. ·         मदरसा के आधुनिकीकरण की प्रक्रिया स्वैक्षिक : सरकार
  113. ·         वर्तमान चुनौतियों से निपटने के लिए नई शिक्षा नीति तैयार कर रही सरकार
  114. ·         Sangh –backed  bid  to ‘ indianise’  education
  115. ·         दो वर्षों में यूजीसी को निजी विश्वविद्यालयों के खिलाफ फीस रिफंड संबंधी 124 शिकायतें मिली
  116. ·         UGC APPROVES RSS- BACKED COURSES AS JOB ORIENTED
  117. ·         तुगलक ,लोदीअकबरशाहजहाँडलहौजी रोड का नाम बदलनेकी कोई योजना नहीं 
  118. ·         बख्तियारपुर रेलवे स्टेशन का नाम  के मामले में गृह मंत्रालय ने राज्य सरकार से माँगी अतिरिक्त सूच


Comments

Popular posts from this blog

वर्तमान में शिक्षा का उद्देश्य

शिक्षा का प्रथम उद्देश्य बच्चों को एक परिपक्व इन्सान बनाना होता है, ताकि वो कल्पनाशील, वैचारिक रूप से स्वतन्त्र और देश का भावी कर्णधार बन सकें, किन्तु भारतीय शिक्षा पद्धति अपने इस उद्देश्य में पूर्ण सफलता नहीं प्राप्त कर सकी है, कारण बहुत सारे हैं । सबसे पहला तो यही कि अंगूठाछाप लोग डिसा‌इड करते हैं कि बच्चों को क्या पढ़ना चाहिये, जो कुछ शिक्षाविद्‍ हैं वो अपने दायरे और विचारधारा‌ओं से बंधे हैं, और उनसे निकलने या कुछ नया सोचने से डरते हैं, ऊपर से राजनीतिज्ञों का अपना एजेन्डा होता है, कुल मिलाकर शिक्षा पद्धति की ऐसी तैसी करने के लिये सभी लोग चारों तरफ से आक्रमण कर रहे हैं, और ऊपर से तुर्रा ये कि ये सभी लोग समझते हैं कि सिर्फ वे ही शिक्षा का सही मार्गदर्शन कर रहे हैं, जबकि दर‌असल ये ही लोग उसकी मां बहन कर रहे हैं । मैं किसी एक पर दोषारोपण नहीं करना चाहता, शिक्षा पद्धति की रूपरेखा बनाने वालों को खुद अपने अन्दर झांकना चाहिये और सोचना चाहिये, कि क्या उसमें मूलभूत परिवर्तन की जरूरत है। आज हम रट्टामार छात्र को पैदा कर रहे हैं, लेकिन वैचारिक रूप से स्वतन्त्र और परिपक्व छात्र नहीं, क्या यही हमा…

राजनीति में भ्रष्टाचार

भ्रष्टाचार और राजनीति का एक गहरा संबंध है । जहां हम विकास की एक नई गाथा को रचने का सपना संजोए हुए हैं वहीं दुनिया के सामने हमारी गरीबी की सच्चाई को स्लमडॉग मिलेनियर जैसी फिल्मों के सहारे परोसा जा रहा है । आज हम भ्रष्टाचार के मामले में बंग्लादेश, श्रीलंका से भी आगे हैं ।
झारखंड के पूर्व मुख्यमंत्री सह सांसद मधुकोड़ा का मामला भ्रष्टाचार के मामले में सामने आया है । जिसमें ४ हजार करोड़ के घपले का पता चला है । कोड़ा का नाम भी उन राजनेताओं में जुड़ गया है जो भ्रष्टाचार के मामले में दोषी पाये गए हैं या घिरे हुए हैं । भ्रष्टाचार को फैलाने वाले राक्षस सत्ता में आसीन राजनीति के शीर्ष नेता हैं इसकी शुरूआत भारत के प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू के समय से ही हो गई थी । १९५६ में खाद्यान्‍न मंत्रालय में करोड़ों रूपये की गड़बड़ी पकड़ी गई । जिसे सिराजुद्दीन काँड के नाम से जाना जाता है । उस समय केशवदेव मालवीय खाद्यान्‍न मंत्री थे उन्हें दोषी पाया गया । १९५८ में भारतीय जीवन बीमा में मुंधरा काँड हुआ जिसकी फिरोज गाँधी ने पोल खोली थी । १९६४ में भ्रष्टाचार को रोकने के लिए “संथानम कमिटी” का गठन किया गया ।…

एक आरटीआई एक्टिविस्ट के संघर्ष की कहानी, उसी की जुबानी

पिताजी गुरु भी थे। गरीबी, प्राइवेट ट्यूशन वगैरह करके आजीविका चलाते; परिवार चलाने के साथ-साथ सारे समाज, देश की चिंता उनका प्रमुख स्वभाव रहा। हमेशा दूसरों से कुछ अलग करने की चाह; सीमित संसाधनों में भी देश, समाज और मित्रों के लिए समय निकालना; शायद उनका यही स्वभाव मेरे मस्तिष्क में रच-बस गया, कार्यशैली का हिस्सा बन गया। छात्र जीवन बहुत फाकाकशी, गरीबी का रहा, लेकिन मेरे पिताजी ने अपने सिद्धांतों के साथ कभी समझौता नहीं किया। हमारे मकान का धरन (कड़ी) लकड़ी का था, जो टूट गया था। उसी पर पूरे छत का लोड था। मकान कब गिर जाय, कुछ ठिकाना नहीं।प्लास्टिक के टेंट लगाकर रहते थे। कभी घर में चूल्हा भी नहीं जलता था। ऐसी ही परिस्थितियों में एक बार गुल्लक तोड़ा, तो पाँच रुपए निकले। उन्हीं से दो किलो चूड़ा लाया था। उसी को भिंगोकर, नमक-मिर्च लगाकर सपरिवार ग्रहण किया। अपनी शादी बिना तिलक-दहेज के की। दो बहनों की शादी आज से बीस साल पहले दिल्ली में मात्र सत्रह हजार की मामूली रकम में ही की। दोनों बहनों की शादी एक ही तिथि में किया। हमारे समाज (अखिल भारतीय खटिक समाज) के जो राष्ट्रीय पदाधिकारी थे, उन्होंने अपना मकान पंद्…